GK MCQ | Indian polity

A motion moved by a member in a legislature when it is desired to have a discussion on a matter of urgent public importance is called / किसी विधायिका में एक सदस्य द्वारा पेश किया गया प्रस्ताव जब तत्काल सार्वजनिक महत्व के मामले पर चर्चा करने की इच्छा होती है, उसे कहा जाता है

A motion moved by a member in a legislature when it is desired to have a discussion on a matter of urgent public importance is called / किसी विधायिका में एक सदस्य द्वारा पेश किया गया प्रस्ताव जब तत्काल सार्वजनिक महत्व के मामले पर चर्चा करने की इच्छा होती है, उसे कहा जाता है

(1) Adjournment motion / स्थगन प्रस्ताव
(2) No-confidence motion / अविश्वास प्रस्ताव
(3) Cut motion / कट मोशन
(4) None of these / इनमें से कोई नहीं

(SSC Tax Assistant (Income Tax & Central Excise) Exam. 25.11.2007)

Answer / उत्तर : – 

(1) Adjournment motion / स्थगन प्रस्ताव

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :- 

The primary object of an adjournment motion is to draw the attention of the House to a recent matter of urgent public importance having serious consequences and in regard to which a motion or a resolution with proper notice will be too late. The matter proposed to be raised should be of such a character that something very grave which affects the whole country and its security has happened and the House is required to pay its attention immediately by interrupting the normal business of the House. The adjournment motion is thus an extraordinary procedure which, if admitted, leads to setting aside the normal business of the House for discussing a definite matter of urgent public importance. / स्थगन प्रस्ताव का प्राथमिक उद्देश्य सदन का ध्यान ऐसे तत्काल सार्वजनिक महत्व के मामले की ओर आकर्षित करना है जिसके गंभीर परिणाम हों और जिसके संबंध में उचित सूचना के साथ कोई प्रस्ताव या संकल्प बहुत देर से हो। उठाया जाने वाला प्रस्तावित मामला इस प्रकार का होना चाहिए कि कुछ बहुत गंभीर हो जिससे पूरे देश और उसकी सुरक्षा को प्रभावित किया जा सके और सदन को सदन के सामान्य कार्य को बाधित करके तुरंत इस पर ध्यान देने की आवश्यकता है। इस प्रकार स्थगन प्रस्ताव एक असाधारण प्रक्रिया है, जिसे यदि स्वीकार कर लिया जाता है, तो सदन के सामान्य कार्य को तत्काल सार्वजनिक महत्व के एक निश्चित मामले पर चर्चा करने के लिए अलग कर दिया जाता है।

Similar Posts

Leave a Reply