Geography | GK | GK MCQ

According to 1991 census, in which State/Union Terriroty has the highest percentage of scheduled castes population ? / 1991 की जनगणना के अनुसार किस राज्य/संघ राज्य क्षेत्र में अनुसूचित जातियों की जनसंख्या का प्रतिशत सर्वाधिक है?

According to 1991 census, in which State/Union Terriroty has the highest percentage of scheduled castes population ? / 1991 की जनगणना के अनुसार किस राज्य/संघ राज्य क्षेत्र में अनुसूचित जातियों की जनसंख्या का प्रतिशत सर्वाधिक है?

 

(1) Punjab / पंजाब
(2) Uttar Pradesh / उत्तर प्रदेश
(3) West Bengal / पश्चिम बंगाल
(4) Karnataka / कर्नाटक

(SSC Combined Graduate Level Prelim Exam. 24.02.2002)

Answer / उत्तर : –

(1) Punjab / पंजाब

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

As per the Census 2001, total population of the Scheduled Castes in the country (excluding the population of Mao Maram, Paomata and Purul sub-divisions of Senapati district of Manipur) is 166,635,700 which constitute 16.2% of the total population. Uttar Pradesh (35,148,377) has the largest Scheduled Caste population, followed by West Bengal (18,452,555) and Bihar (13,048,608). These states, along with Andhra Pradesh Tamil Nadu, Maharashtra, Rajasthan, Madhya Pradesh, Karnataka and Punjab comprise the groupof ‘top ten’ states in terms of large Scheduled Caste population in the country. In Nagaland, Lakshadweep, and A & N Islands, no Scheduled Caste is notified. According to 2011 census, Punjab has the highest percentage (31.9%) of scheduled castes population. SC% of India = 16.6%, ST% of India = 8.6%.

The population of Scheduled Castes and Scheduled Tribes in the States, in the 1991 Census, can be seen in Annex 4. I. In Punjab (28.3%), Himachal Pradesh (25.34%), West Bengal (23.62%) and Uttar Pradesh (21.05%) more than 20% of the population belongs to the Scheduled Castes.

2001 की जनगणना के अनुसार, देश में अनुसूचित जातियों की कुल जनसंख्या (मणिपुर के सेनापति जिले के माओ मरम, पाओमाता और पुरुल उप-मंडलों की जनसंख्या को छोड़कर) 166,635,700 है जो कुल जनसंख्या का 16.2% है। उत्तर प्रदेश (35,148,377) में अनुसूचित जाति की आबादी सबसे अधिक है, इसके बाद पश्चिम बंगाल (18,452,555) और बिहार (13,048,608) हैं। आंध्र प्रदेश तमिलनाडु, महाराष्ट्र, राजस्थान, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और पंजाब के साथ ये राज्य देश में अनुसूचित जाति की बड़ी आबादी के मामले में ‘शीर्ष दस’ राज्यों के समूह में शामिल हैं। नागालैंड, लक्षद्वीप और A & N द्वीप समूह में, कोई अनुसूचित जाति अधिसूचित नहीं है। 2011 की जनगणना के अनुसार, पंजाब में अनुसूचित जातियों की आबादी का सबसे अधिक (31.9%) प्रतिशत है। भारत का एससी% = 16.6%, भारत का एसटी% = 8.6%।

1991 की जनगणना में, राज्यों में अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों की जनसंख्या, संलग्नक 4. I में देखी जा सकती है। पंजाब (28.3%), हिमाचल प्रदेश (25.34%), पश्चिम बंगाल (23.62%) और उत्तर प्रदेश (21.05%) में 20% से अधिक जनसंख्या अनुसूचित जाति की है।

Similar Posts

Leave a Reply