| |

Fleming’s right hand rule is used to find the direction of the / फ्लेमिंग के दाहिने हाथ के नियम का प्रयोग किसकी दिशा ज्ञात करने के लिए किया जाता है?

Fleming’s right hand rule is used to find the direction of the / फ्लेमिंग के दाहिने हाथ के नियम का प्रयोग किसकी दिशा ज्ञात करने के लिए किया जाता है?

(1) Alternate current / प्रत्यावर्ती धारा
(2) Direct current / प्रत्यक्ष धारा
(3) Induced current / प्रेरित धारा
(4) Actual current / वास्तविक धारा

 

( SSC CGL Tier-I Exam. 19.10.2014 TF No. 022 MH 3)

 

Answer / उत्तर :-

(3) Induced current / प्रेरित धारा

 

Explanation / व्याख्या :-

Fleming’s right hand rule shows the direction of induced current when a conductor moves in a magnetic field. The right hand is held with the thumb, first finger and second finger mutually perpendicular to each other. The rule is named after British engineer John Ambrose Fleming. / जब कोई चालक चुंबकीय क्षेत्र में गति करता है तो फ्लेमिंग के दाहिने हाथ का नियम प्रेरित धारा की दिशा को दर्शाता है। दाहिने हाथ को अंगूठे, पहली उंगली और दूसरी उंगली के साथ परस्पर लंबवत रखा जाता है। इस नियम का नाम ब्रिटिश इंजीनियर जॉन एम्ब्रोस फ्लेमिंग के नाम पर रखा गया है।

Similar Posts

Leave a Reply