GK MCQ | Indian polity

How are legislative excesses of Parliament and Assemblies checked? / संसद और विधानसभाओं की विधायी ज्यादतियों की जाँच कैसे की जाती है?

How are legislative excesses of Parliament and Assemblies checked? / संसद और विधानसभाओं की विधायी ज्यादतियों की जाँच कैसे की जाती है?

(1) Intervention from President/ Governor / राष्ट्रपति/राज्यपाल का हस्तक्षेप
(2) No Confidence motions / कोई विश्वास प्रस्ताव नहीं
(3) Judicial review / न्यायिक समीक्षा
(4) General elections / आम चुनाव

(SSC Combined Graduate Level Prelim Exam. 24.02.2002)

Answer / उत्तर : – 

(3) Judicial review / न्यायिक समीक्षा

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :- 

Judicial review is the doctrine under which legislative and executive actions are subject to review (and possible invalidation) by the judiciary. Specific courts with judicial review power must annul the acts of the state when it finds them incompatible with a higher authority (such as the terms of a written constitution). Judicial review is an example of the separation of powers in a modern governmental system (where the judiciary is one of three branches of government). / न्यायिक समीक्षा वह सिद्धांत है जिसके तहत न्यायपालिका द्वारा विधायी और कार्यकारी कार्यों की समीक्षा (और संभावित अमान्यता) की जाती है। न्यायिक समीक्षा शक्ति वाले विशिष्ट न्यायालयों को राज्य के कृत्यों को रद्द करना चाहिए, जब वह उन्हें उच्च प्राधिकारी (जैसे लिखित संविधान की शर्तों) के साथ असंगत पाता है। न्यायिक समीक्षा एक आधुनिक सरकारी प्रणाली में शक्तियों के पृथक्करण का एक उदाहरण है (जहां न्यायपालिका सरकार की तीन शाखाओं में से एक है)

Similar Posts

Leave a Reply