| |

Huge deposits of uranium were recently found in / हाल ही में यूरेनियम के विशाल भंडार कहाँ पाए गए?

Huge deposits of uranium were recently found in / हाल ही में यूरेनियम के विशाल भंडार कहाँ पाए गए?

 

(1) Andhra Pradesh / आंध्र प्रदेश
(2) Karnataka / कर्नाटक
(3) Kerala / केरल
(4) Tamil Nadu / तमिलनाडु

(SSC Higher Secondary Level Data Entry Operator & LDC Exam. 28.11.2010)

Answer / उत्तर : –

(1) Andhra Pradesh / आंध्र प्रदेश

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

Tummalapalle Mine is a uranium mine in Tumalapalli village located in Kadapa of the Indian state of Andhra Pradesh. Results from a research conducted by the Atomic Energy Commission of India in 2011 made the analysts conclude that this mine might have one of the largest reserves of uranium in the world.

Huge deposits of uranium have been found in Andhra Pradesh, India, which can prove to be the world’s largest mine. Government officials say that this can go a long way in meeting energy needs.
To find out this place, a survey was done here for four years. Sreekumar Banerjee, Secretary, Department of Atomic Energy, says that one and a half tons of uranium can be found from this mine found in Tumalapalli. An India daily quoted Banerjee as saying, “It is now confirmed that the mine has 49,000 tonnes of ore. And there are indications that the reserves there could be triple that.”

“If this happens, it will be the world’s largest uranium reserve,” he says.

Earlier it was being estimated that only 15,000 tonnes of uranium could be in this reserve. Work in the store will start from the end of this year. However, nothing has been told about the quality of uranium found in Tumalapalli. India already has reserves of uranium but they are not as good in quality. Therefore, India has to import uranium from France, Kazakhstan, Russia and other places.

However, Indian officials say that even after the new supply, India cannot collect the uranium it needs and even then it will have to import uranium from other countries.

India gets less than three percent of its energy requirement from nuclear power and is trying to increase it to a quarter of the total by 2050.

तुम्मलपल्ले खदान भारत के आंध्र प्रदेश राज्य के कडपा में स्थित तुमलापल्ली गाँव में एक यूरेनियम की खान है। 2011 में भारत के परमाणु ऊर्जा आयोग द्वारा किए गए एक शोध के परिणामों ने विश्लेषकों को यह निष्कर्ष निकाला कि यह खदान दुनिया में यूरेनियम के सबसे बड़े भंडार में से एक हो सकती है।

भारत के आंध्र प्रदेश में यूरेनियम का विशाल भंडार मिला है, जो विश्व का सबसे बड़ी खान साबित हो सकता है. सरकारी अधिकारियों का कहना है कि इससे ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने में बहुत बड़ी मदद मिल सकती है.
इस जगह का पता लगाने के लिए यहां चार साल तक सर्वे किया गया. परमाणु ऊर्जा विभाग के सचिव श्रीकुमार बनर्जी का कहना है कि तुमालापल्ली में पाए गए इस खदान में से डेढ़ टन यूरेनियम मिल सकता है. भारत के एक दैनिक ने बनर्जी के हवाले से रिपोर्ट दी है, “अब इस बात की पुष्टि हो गई है कि खान में 49,000 टन अयस्क है. और इस बात के संकेत हैं कि वहां का भंडार इसका तिगुना हो सकता है.”

उनका कहना है, “अगर ऐसा होता है, तो यह दुनिया का सबसे बड़ा यूरेनियम भंडार होगा.”

पहले अनुमान लगाया जा रहा था कि इस भंडार में सिर्फ 15,000 टन यूरेनियम हो सकता है. भंडार में इस साल के आखिर से काम शुरू हो जाएगा. हालांकि तुमालापल्ली में पाए गए यूरेनियम की गुणवत्ता के बारे में कुछ नहीं बताया गया है. भारत में पहले से भी यूरेनियम के भंडार हैं लेकिन गुणवत्ता में वे उतने अच्छे नहीं हैं. इसलिए भारत को फ्रांस, कजाकिस्तान, रूस और दूसरी जगहों से यूरेनियम का आयात करना पड़ता है.

हालांकि भारतीय अधिकारियों का कहना है कि नई सप्लाई के बाद भी भारत अपनी जरूरत का यूरेनियम नहीं जुटा सकता है और इसके बाद भी उसे दूसरे देशों से यूरेनियम का आयात करना होगा.

भारत अपनी ऊर्जा जरूरत का तीन प्रतिशत से भी कम हिस्सा परमाणु ऊर्जा के तौर पर हासिल करता है और इसकी कोशिश है कि 2050 तक इसे बढ़ा कर कुल जरूरत का एक चौथाई कर दिया जाए.

 

 

Similar Posts

Leave a Reply