GK MCQ | Indian polity

If the Anglo-Indian community does not get adequate representation in the Lok Sabha, two members of the community can be nominated by the / यदि एंग्लो-इंडियन समुदाय को लोकसभा में पर्याप्त प्रतिनिधित्व नहीं मिलता है, तो समुदाय के दो सदस्यों को नामित किया जा सकता है

If the Anglo-Indian community does not get adequate representation in the Lok Sabha, two members of the community can be nominated by the / यदि एंग्लो-इंडियन समुदाय को लोकसभा में पर्याप्त प्रतिनिधित्व नहीं मिलता है, तो समुदाय के दो सदस्यों को नामित किया जा सकता है

(1) Prime Minister / प्रधान मंत्री
(2) President / राष्ट्रपति
(3) Speaker / वक्ता
(4) President in consultation with the Parliament / राष्ट्रपति संसद के परामर्श से

(SSC Combined Graduate Level Tier-I Exam. 19.06.2011)

Answer / उत्तर : – 

(2) President / राष्ट्रपति

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :- 

The Constitution limits the Lok Sabha to a maximum of 552 members, including no more than 20 members representing people from the Union Territories, and two appointed non-partisan members to represent the Anglo-Indian community (if the President feels that the community is not adequately represented). / संविधान लोकसभा को अधिकतम 552 सदस्यों तक सीमित करता है, जिसमें 20 से अधिक सदस्य केंद्र शासित प्रदेशों के लोगों का प्रतिनिधित्व नहीं करते हैं, और दो नियुक्त गैर-पक्षपाती सदस्य एंग्लो-इंडियन समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं (यदि राष्ट्रपति को लगता है कि समुदाय नहीं है पर्याप्त प्रतिनिधित्व)।

Similar Posts

Leave a Reply