Geography | GK | GK MCQ

Name the longest lake in India. / भारत की सबसे लंबी झील का नाम बताइए।

Name the longest lake in India. / भारत की सबसे लंबी झील का नाम बताइए।

 

(1) Pangong Lake / पैंगोंग झील
(2) Pulicat Lake / पुलिकट झील
(3) Kolleru Lake / कोल्लेरू झील
(4) Vembanad Lake / वेम्बनाड झील

(SSC CPO Exam. 06.06.2016)

Answer / उत्तर : – 

(4) Vembanad Lake / वेम्बनाड झील

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

Vembanad Lake of Kerala is the longest lake in India with a length of 95.6 km. Besides, with a surface area of 2033 km², it is the largest lake in Kerala and spans several districts of the state. The Nehru Trophy Boat Race is conducted in a portion of the lake.

Vembanad Lake is the largest lake in India and this lake is located in the state of Kerala, India, this lake is spread over an area of ​​2,033 square kilometers. The famous Nehru Trophy boat race of Kerala is held in this lake. This lake is spread over many districts of Kerala.

Vembanad Lake is a Ramsar site located in Kerala. It was earlier a beautiful lake but has now become the most critically vulnerable ecosystem of Kerala due to man-made causes. In an effort to revive its ecosystem, the Kerala University of Fisheries and Ocean Studies Department has decided to investigate and revive it.

factors affecting its ecosystem

Apart from environmental degradation over the past few decades, several factors such as dumping of waste along its banks have reduced its natural range.
The factors affecting its ecosystem are tidal flow, siltation rate, stream velocity and mud accumulation.
The biggest concern is the reduction in the area of ​​this lake and the reduction in its depth.
Today the condition is that in some areas its depth has reduced to less than a meter. Its average depth was close to 10 meters.
computer model

The University of Kerala has planned a five-year analysis to study the causes of Vembanad lake problems.
For this, the researchers have proposed to prepare a computer model of this lake with and without the Thanimukkam dam.
The Thanirmukkam Dam was built several decades ago to support two-time cultivation of paddy in the surrounding wetlands.
Pre and post monsoon data of the lake’s ecosystem will be collected to record the changes in its ecosystem.

Vembanad Lake : A Glance

Vembanad Lake is an attractive place. It is famous for tourism.
It is known by many names in Kerala.
For the conservation of this lake, the Government of India has kept it under the ‘National Waterland Conservation Plan’.
According to the Ramsar Convention, this wetland has been included in the list of lakes of international importance.

Ramsar Convention

The Ramsar Convention is a convention relating to the natural habitat of wet lands of international importance, especially water-fed animals.
It is an international treaty to ensure the sustainable use and protection of wetlands.
Ramsar is a city in Iran, where such a convention was organized in 1971.

केरल की वेम्बनाड झील भारत की सबसे लंबी झील है जिसकी लंबाई 95.6 किमी है। इसके अलावा, 2033 वर्ग किमी के सतह क्षेत्र के साथ, यह केरल की सबसे बड़ी झील है और राज्य के कई जिलों में फैली हुई है। नेहरू ट्रॉफी बोट रेस झील के एक हिस्से में आयोजित की जाती है।

वेम्बनाड झील भारत की सबसे बड़ी झील है और यह झील भारत के केरल राज्य में स्थित है यह झील 2,033 स्क्वायर किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। इस झील में केरल का प्रसिद्ध नेहरू ट्रॉफी बोट रेस आयोजित किया जाता है। यह झील केरल के कई सारे जिलों में फैला है।

वेम्बनाड झील केरल में स्थित एक रामसर स्थल है। यह पहले एक खूबसूरत झील थी परन्तु अब मानव जनित कारणों से केरल की सबसे गंभीर सुभेद्य पारिस्थितिकी तंत्र बन चुकी है। इसके पारिस्थितिकी तंत्र को पुनर्जीवित करने के प्रयास में केरल विश्वविद्यालय के मत्स्य पालन और महासागर अध्ययन (The Kerala University of Fisheries and Ocean Studies) विभाग ने इसके बीमार होने के कारणों की जाँच करने और इसे पुनर्जीवित करने का निर्णय किया है।

इसके पारिस्थितिक तंत्र को प्रभावित करने वाले कारक

पिछले कुछ दशकों में पर्यावरणीय गिरावट के अलावा इसके किनारे कचरे की डंपिंग जैसे कई कारकों के कारण इसकी प्राकृतिक सीमा कम हो गई है।
इसके पारिस्थितिकी तंत्र को प्रभावित करने वाले कारकों में ज्वारीय प्रवाह, गाद की दर, धारा का वेग और कीचड़ जमाव है।
इस झील के क्षेत्र में कमी और इसकी गहराई में कमी का होना सबसे बड़ा चिंता का विषय है।
आज हालत यह है कि कुछ क्षेत्रों में इसकी गहराई एक मीटर से भी कम हो गई है। इसकी औसत गहराई 10 मीटर के करीब थी।
कंप्यूटर मॉडल

वेम्बनाड झील की समस्याओं के कारणों के अध्ययन के लिये केरल विश्वविद्यालय ने पाँच साल के विश्लेषण की योजना बनाई है।
इसके लिये शोधकर्त्ताओं ने थनीरमुक्कम बाँध के साथ और बाँध के बिना इस झील का एक कंप्यूटर मॉडल तैयार करने का प्रस्ताव किया है।
थनीरमुक्कम बाँध को कई दशकों पहले आस-पास की नमभूमियों में धान की दो बार की खेती में सहायता के लिये बनाया गया था।
इस झील के पारिस्थितिकी तंत्र का मानसून के पहले और बाद के आँकड़ों को इकट्ठा किया जाएगा, ताकि इसके पारिस्थितिकी तंत्र में आने वाले परिवर्तन को रिकॉर्ड किया जा सके।

वेम्बनाड झील : एक नज़र

वेम्बनाड झील एक आकर्षक स्थल है। यह पर्यटन के लिये प्रसिद्ध है।
केरल में इसे कई नामों से जाना जाता है।
भारत सरकार ने इस झील के संरक्षण के लिये इसे ‘राष्ट्रीय जलभूमि संरक्षण योजना’ के दायरे में रखा है।
रामसर कन्वेंशन के अनुसार इस नमभूमि को अंतर्राष्ट्रीय महत्त्व की झीलों की सूची में शामिल किया गया है।

रामसर कन्वेंशन

रामसर सम्मलेन अंतर्राष्ट्रीय महत्त्व की नम भूमियों, विशेषकर जलप्रवाही पशु-पक्षियों के प्राकृतिक आवास से संबंधित एक कन्वेंशन (convention) है।
यह आर्द्रभूमियों के धारणीय प्रयोग और संरक्षण को सुनिश्चित करने वाली एक अंतर्राष्ट्रीय संधि है।
रामसर ईरान का एक शहर है, जहाँ 1971 में इस तरह का सम्मलेन आयोजित किया गया था।

Similar Posts

Leave a Reply