GK MCQ | Indian polity

The item ‘Education’ belongs to the : / मद ‘शिक्षा’ का संबंध है :

The item ‘Education’ belongs to the : / मद ‘शिक्षा’ का संबंध है :

(1) Union List / संघ सूची
(2) State List / राज्य सूची
(3) Concurrent List / समवर्ती सूची
(4) Residuary Subjects / अवशिष्ट विषय

(SSC Combined Graduate Level Prelim Exam. 08.02.2004)

Answer / उत्तर : – 

(3) Concurrent List / समवर्ती सूची

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :- 

The subjects defined and enlisted under the List-III of the Seventh Schedule of the Constitution of India, form the joint domain of both the State Governments and the Union territories of India as well as the Central Government of India under these subjects. This is known as Concurrent List. The practical importance of the Concurrent list, (when adopted in any federation) lies in the fact, that the vesting of the same type of power in two parallel agencies carries, within it, the seeds of a possible conflict. This implies, that the Constitution (of the country concerned) should provide, in advance, a mechanism for resolving such conflict. In India, article 254 of the Constitution primarily seeks to incorporate such a mechanism. / भारत के संविधान की सातवीं अनुसूची की सूची- III के तहत परिभाषित और सूचीबद्ध विषय, इन विषयों के तहत भारत की राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ-साथ भारत की केंद्र सरकार दोनों का संयुक्त डोमेन बनाते हैं। इसे समवर्ती सूची के रूप में जाना जाता है। समवर्ती सूची का व्यावहारिक महत्व, (जब किसी संघ में अपनाया जाता है) इस तथ्य में निहित है कि दो समानांतर एजेंसियों में एक ही प्रकार की शक्ति का निहित होना, इसके भीतर, एक संभावित संघर्ष के बीज होते हैं। इसका तात्पर्य यह है कि संविधान (संबंधित देश के) को इस तरह के संघर्ष को हल करने के लिए अग्रिम रूप से एक तंत्र प्रदान करना चाहिए। भारत में, संविधान का अनुच्छेद 254 मुख्य रूप से इस तरह के तंत्र को शामिल करने का प्रयास करता है।

Similar Posts

Leave a Reply