| |

The largest producer of Lignite in India is : / भारत में लिग्नाइट का सबसे बड़ा उत्पादक है :

The largest producer of Lignite in India is : / भारत में लिग्नाइट का सबसे बड़ा उत्पादक है :

 

(1) Kerala / केरल
(2) Tamil Nadu / तमिलनाडु
(3) Rajasthan / राजस्थान
(4) Gujarat / गुजरात

(SSC CHSL (10+2) LDC, DEO & PA/SA Exam, 06.12.2015)

Answer / उत्तर : –

(2) Tamil Nadu / तमिलनाडु

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

State-wise distributions of Indian Lignite shows that major part of the resource are located in Tamil Nadu followed by Rajasthan, Gujarat, Pondicherry, J&K, Kerala, and West Bengal . About 75 percent of lignite production in India comes from Neyveli in Tamil Nadu.

Tamil Nadu is the largest producer of lignite in India. Lignite is produced in Neyveli town in Cuddalore district of Tamil Nadu. The development of this town area started with the establishment of Neyveli Lignite Corporation in 1956. It is a mini-ratna company of the Government of India. It mines lignite. Among the coal varieties, anthacite is considered to be the highest quality coal as it has a carbon content of 94 to 98 percent. Bituminous coal is also considered to be of good quality. The amount of carbon in it is found from 78 to 86 percent. It is a solid sedimentary rock, which is black or dark brown in colour. This type of coal is used in steam and electric powered engines. Coke is also made from this coal. Lignite, this coal is brown in color, the carbon content in it ranges from 28 to 30 percent. It is used to generate electrical energy. On the other hand, peat coal is considered to be of the worst quality.

भारतीय लिग्नाइट के राज्य-वार वितरण से पता चलता है कि संसाधन का बड़ा हिस्सा तमिलनाडु में स्थित है, इसके बाद राजस्थान, गुजरात, पांडिचेरी, जम्मू-कश्मीर, केरल और पश्चिम बंगाल हैं। भारत में लगभग 75 प्रतिशत लिग्नाइट उत्पादन तमिलनाडु के नेवेली से होता है।

भारत में लिग्नाइट का सबसे बड़ा उत्पादक राज्य तमिलनाडु है। तमिलनाडु के कुड्डालोर जिले में​ नैवेली नगर में लिग्नाइट का उत्पादन होता है। इस नगर क्षेत्र का विकास 1956 में नैवेली लिग्नाइट कॉपरेशन की स्थापना के साथ शुरू हुआ। यह भारत सरकार की मिनी-रत्न कंपनी है। यह लिग्नाइट का खनन करती है। कोयले की क़िस्मों में एंथेसाइट उच्च गुणवत्ता वाला कोयला माना जाता है क्योंकि इसमें कार्बन की मात्रा 94 से 98 प्रतिशत तक पाई जाती है। बिटुमिनस कोयला भी अच्छी गुणवत्ता वाला माना जाता है। इसमें कार्बन की मात्रा 78 से 86 प्रतिशत तक पाई जाती है। यह एक ठोस अवसादी चट्टान है, जो काली या गहरी भूरी रंग की होती है। इस प्रकार के कोयले का उपयोग भाप तथा विद्युत संचालित ऊर्जा के इंजनों में होता है। इस कोयले से कोक का निर्माण भी किया जाता है लिग्नाइट यह कोयला भूरे रंग का होता है, इसमें कार्बन की मात्रा 28 से 30 प्रतिशत तक होती है। इसका उपयोग विद्युत ऊर्जा उत्पन्न करने के लिए किया जाता है। वहीं पीट कोयले को सबसे ख़राब गुणवत्ता का माना जाता है।

Similar Posts

Leave a Reply