GK MCQ | Indian polity

What is meant by social justice? / सामाजिक न्याय से क्या तात्पर्य है?

What is meant by social justice? / सामाजिक न्याय से क्या तात्पर्य है?

(1) All should have same economic rights. / सभी को समान आर्थिक अधिकार होने चाहिए।
(2) All should have same political rights. / सभी को समान राजनीतिक अधिकार होने चाहिए।
(3) All kinds of discrimination based on caste, creed, colour and sex should be eliminated. / जाति, पंथ, रंग और लिंग के आधार पर सभी प्रकार के भेदभाव को समाप्त किया जाना चाहिए।
(4) All should be granted right to freedom of religion. /  सभी को धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार दिया जाना चाहिए।

(SSC Constable (GD) Exam. 12.05.2013)

Answer / उत्तर : – 

(3) All kinds of discrimination based on caste, creed, colour and sex should be eliminated. / जाति, पंथ, रंग और लिंग के आधार पर सभी प्रकार के भेदभाव को समाप्त किया जाना चाहिए।

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :- 

Social justice is justice exercised within a society, particularly as it is applied to and among the various social classes of a society. A socially just society is one based upon the principles of equality and solidarity; and values human rights, as well as recognizing the dignity of every human being. / सामाजिक न्याय एक समाज के भीतर प्रयोग किया जाने वाला न्याय है, विशेष रूप से जब इसे समाज के विभिन्न सामाजिक वर्गों पर लागू किया जाता है। एक सामाजिक रूप से न्यायसंगत समाज समानता और एकजुटता के सिद्धांतों पर आधारित है; और मानव अधिकारों को महत्व देता है, साथ ही प्रत्येक मनुष्य की गरिमा को पहचानता है।

Similar Posts

Leave a Reply