Geography | GK | GK MCQ

Where is the Bandipur National Park? / बांदीपुर राष्ट्रीय उद्यान कहाँ है?

Where is the Bandipur National Park? / बांदीपुर राष्ट्रीय उद्यान कहाँ है?

 

(1) Rajasthan / राजस्थान
(2) Andhra Pradesh / आंध्र प्रदेश
(3) Karnataka / कर्नाटक
(4) Assam / असम

(SSC Section Officer (Audit) Exam. 09.09.2001)

Answer / उत्तर : – 

(3) Karnataka / कर्नाटक

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

Bandipur National Park, established in 1973 as a tiger reserve under Project Tiger, is a national park located in the south Indian state of Karnataka. It was once a private hunting reserve for the Maharaja of the Kingdom of Mysore. Bandipur is located in Gundlupet taluq of Chamarajanagar district. Together with the adjoining Nagarhole National Park, Mudumalai National Park and Wynad Wildlife Sanctuary, it is part of the Nilgiri Biosphere Reserve totaling 2,183 km2 making it the largest protected area in southern India.

Bandipur National Park is located in the southern Indian state of Karnataka. It was established as a Tiger Reserve in 1974 under Project Tiger. It was once the private hunting reserve of the Maharaja of Mysore State. [Bandipur is famous for its wildlife and has a variety of biomes, but dry deciduous forest is the main among them.

The park covers an area of ​​874 square kilometers (337 sq mi) and is a conservation site for many species of endangered wildlife of India. Altogether 2183 square kilometers with the surrounding Nagarhole National Park (643 square kilometers (248 sq mi)), Mudumalai National Park (320 square kilometers (120 sq mi)) and Wayanad Wildlife Sanctuary (344 square kilometers (133 sq mi)) It is part of the (843 sq mi) Nilgiri Biosphere Reserve, making it the largest protected area in South India.

Bandipur is located in Gundlupet Taluk of Chamarajanagar District. It is located 80 kilometers (50 mi) from the city of Mysore on the way to Ooty, a major tourist destination. Due to this, many tourist traffic passes through Bandipur and many wild animals die due to collision with these vehicles every year. has been banned.

बांदीपुर राष्ट्रीय उद्यान, 1973 में प्रोजेक्ट टाइगर के तहत एक बाघ अभयारण्य के रूप में स्थापित, दक्षिण भारतीय राज्य कर्नाटक में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान है। यह कभी मैसूर साम्राज्य के महाराजा के लिए एक निजी शिकार आरक्षित था। बांदीपुर चामराजनगर जिले के गुंडलुपेट तालुक में स्थित है। निकटवर्ती नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान, मुदुमलाई राष्ट्रीय उद्यान और वायनाड वन्यजीव अभयारण्य के साथ, यह नीलगिरी बायोस्फीयर रिजर्व का हिस्सा है, जो कुल 2,183 किमी 2 है जो इसे दक्षिण भारत में सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र बनाता है।

बांदीपुर राष्ट्रीय उद्यान दक्षिण भारत के कर्नाटक राज्य में स्थित है। यह प्रोजेक्ट टाइगर के तहत सन् 1974 में एक टाइगर रिज़र्व के रूप में स्थापित किया गया था। एक समय यह मैसूर राज्य के महाराजा की निजी आरक्षित शिकारगाह थी।[बांदीपुर अपने वन्य जीवन के लिए प्रसिद्ध है और यहाँ कई प्रकार के बायोम हैं, लेकिन इनमें शुष्क पर्णपाती वन प्रमुख है।

उद्यान ८७४ वर्ग किलोमीटर (३३७ वर्ग मील) के क्षेत्र में फैला हुआ है और भारत के लुप्तप्राय वन्य जीवन की कई प्रजातियों का संरक्षण स्थल है। आसपास के नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान (६४३ वर्ग किलोमीटर (२४८ वर्ग मील)), मुदुमलाइ राष्ट्रीय उद्यान (320 वर्ग किलोमीटर (120 वर्ग मील)) और वायनाड वन्यजीव अभयारण्य (344 वर्ग किलोमीटर (133 वर्ग मील)) के साथ कुल मिलाकर 2183 वर्ग किलोमीटर (843 वर्ग मील) का यह नीलगिरी बायोस्फीयर रिज़र्व का हिस्सा है जिससे यह दक्षिण भारत का सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र बन जाता है।

बांदीपुर चामराजनगर जिले के गुण्द्लुपेट तालुके में स्थित है। यह मैसूर शहर से ८० किलोमीटर (५० मील) की दूरी पर एक प्रमुख पर्यटन स्थल ऊटी जाने के मार्ग पर स्थित है। इसकी वजह से बहुत से पर्यटन यातायात बांदीपुर से होकर गुज़रते हैं और वर्ष इन वाहनों से हुई टक्कर के कारण कई वन्य प्राणियों की मृत्यु हो जाती है।इन हादसों को कम करने की दृश्टि से सरकार ने गोधुलि वेला से भोर तक बांदीपुर से गुज़रने वाले यातायात पर प्रतिबन्ध लगा दिया है।

Similar Posts

Leave a Reply