Biology | GK MCQ | Science

According to WHO, the bird flue virus cannot be transmitted through food cooked beyond / डब्ल्यूएचओ के अनुसार, बर्ड फ्लू के वायरस को बाहर पके हुए भोजन के माध्यम से प्रसारित नहीं किया जा सकता है

According to WHO, the bird flue virus cannot be transmitted through food cooked beyond / डब्ल्यूएचओ के अनुसार, बर्ड फ्लू के वायरस को बाहर पके हुए भोजन के माध्यम से प्रसारित नहीं किया जा सकता है

(1) 60 degrees celsius / डिग्री सेल्सियस
(2) 70 degrees celsius / डिग्री सेल्सियस
(3) 90 degrees celsius /डिग्री सेल्सियस
(4) 100 degrees celsius /डिग्री सेल्सियस

(SSC Combined Graduate Level Prelim Exam. 27.07.2008 (First Sitting)

 

Answer / उत्तर : – 

(2) 70 degrees celsius / डिग्री सेल्सियस

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :- 

Outbreaks by the highly pathogenic H5N1 avian influenza (bird flu) virus in poultry have raised concerns about the source of infection and the risk to humans from various exposures. The H5N1 virus is sensitive to heat. Normal temperatures used for cooking (70°C in all parts of the food) will kill the virus. Consumers need to be sure that all parts of the poultry are fully cooked (no pink parts) and that eggs, too, are properly cooked / पोल्ट्री में अत्यधिक रोगजनक H5N1 एवियन इन्फ्लूएंजा (बर्ड फ्लू) वायरस के प्रकोप ने संक्रमण के स्रोत और विभिन्न जोखिमों से मनुष्यों के लिए जोखिम के बारे में चिंता जताई है। H5N1 वायरस गर्मी के प्रति संवेदनशील होता है। खाना पकाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला सामान्य तापमान (भोजन के सभी हिस्सों में 70 डिग्री सेल्सियस) वायरस को मार देगा। उपभोक्ताओं को यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि पोल्ट्री के सभी भाग पूरी तरह से पके हुए हैं (कोई गुलाबी भाग नहीं) और अंडे भी ठीक से पके हुए हैं

Similar Posts

Leave a Reply