| |

The river which joins Ganga from southern side is : / दक्षिण दिशा से गंगा में मिलने वाली नदी है :

The river which joins Ganga from southern side is : / दक्षिण दिशा से गंगा में मिलने वाली नदी है :

 

(1) Betwa / बेतवा
(2) Chambal / चंबली
(3) Son / सोन
(4) Ken / केन

(SSC Combined Matric Level (PRE) Exam. 05.05.2002)

Answer / उत्तर : – 

(3) Son / सोन

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

Son is the principal southern tributary of the Ganges (Ganga) River, rising in Madhya Pradesh state. The river cuts through the Kaimur Range and joins the Ganges above Patna, after a 487-mile (784-km) course. The Son valley is geologically almost a continuation of that of the Narmada River to the southwest.

The Ganges River is a major river of India. Its sub basins are in Bhagirathi and Alaknanda, which merge to form the Ganges at Devprayag. It flows through Uttarakhand, Uttar Pradesh, Bihar and West Bengal. The Bhagirathi river, which used to be the main river in the olden times, rises under the hills of the palace while the Padma flows east and enters Bangladesh. Yamuna, Ramganga, Saryu, Gandak, Kosi, Mahanadi and Son are important tributaries of Ganga. Chambal and Betwa are important sub tributaries which join Yamuna before joining Ganga. The Padma and the Brahmaputra meet in Bangladesh and continue to flow as the Padma or the Ganges.

India’s largest Uttarayan Ganga enters Katihar district via Bhagalpur in Bihar. Trimohini Sangam is the confluence of India’s largest Uttarayan Ganga. Which is mainly the confluence of Ganga and Koshi. The main tributaries of the Ganges coming from the north are Yamuna, Ghaghra, Bagmati, Ramganga, Karnali (Sarayu), Tapti, Gandak, Kosi and Kakshi and the major rivers coming from the plateau of the south are Son, Betwa, Ken, Southern Toss etc. Yamuna is the most important tributary of the Ganges, which originates from the Yamunotri iceberg at the base of the Bandarpunch peak of the Himalayas. Tons[3] in the upper part of the Himalayas and later on coming to the Lesser Himalayas, the Giri and Asan rivers meet in it. Apart from these Chambal, Betwa, Sharda and Ken are other tributaries of Yamuna. Chambal joins Yamuna near Etawah and Betwa near Mahoba and Hamirpur. The Yamuna joins the Ganges river from the left side near Prayagraj. The Ramganga originates from the southern part of the main Himalayas near Nainital and flows through Bijnor district and joins the Ganges near Kannauj.

The Karnali originates from a glacier named Mpsatung and joins the Ganges near the border of Ballia district, passing through Ayodhya. This river is called Kauriala in the mountainous part and Saryu in the plains. The Gandak originates from the Himalayas and flows into Nepal under the name ‘Shalgrami’ and finds its name ‘Narayani’ in the plains. It flows with the water of Kali Gandak and Trishul rivers and joins the Ganges near Sonpur. The main stream of Kosi is Arun which originates from the north of Gosai Dham. The Arun river flows in a circular form from the south of the basin of the Brahmaputra where the river Yaru joins it. After this, the Arun River, flowing through the Everest Kangchenjunga peaks, flows 90 km to the south, where it joins the rivers named Sunkosi from the west and Tamur Kosi from the east. After this, it crosses the Shivalik and descends into the plain by the name of the Kosi river and joins the Ganges flowing through the state of Bihar. Originating from the Amarkantak hill, the Son river joins the Ganges near Patna.

सोन मध्य प्रदेश राज्य में उगने वाली गंगा (गंगा) नदी की प्रमुख दक्षिणी सहायक नदी है। नदी कैमूर रेंज से कटती है और 487-मील (784-किमी) के पाठ्यक्रम के बाद, पटना के ऊपर गंगा में मिल जाती है। सोन घाटी भूगर्भीय रूप से लगभग दक्षिण-पश्चिम में नर्मदा नदी की निरंतरता है।

गंगा नदी भारत की एक प्रमुख नदी है। इसका उप द्रोणी क्षेत्र भागीरथी और अलकनंदा में हैं, जो देवप्रयाग में मिलकर गंगा बन जाती है। यह उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल से होकर बहती है। राजमहल की पहाड़ियों के नीचे भागीरथी नदी, जो पुराने समय में मुख्‍य नदी हुआ करती थी, निकलती है जबकि पद्मा पूरब की ओर बहती है और बांग्लादेश में प्रवेश करती है। यमुना, रामगंगा, सरयू, गंडक, कोसी, महानदी और सोन गंगा की महत्त्वपूर्ण सहायक नदियाँ है।चंबल और बेतवा महत्‍वपूर्ण उप सहायक नदियाँ हैं जो गंगा से मिलने से पहले यमुना में मिल जाती हैं। पद्मा और ब्रह्मपुत्र बांग्‍लादेश में मिलती है और पद्मा अथवा गंगा के रूप में बहती रहती है।

भारत की सबसे बड़ी उत्तरायण गंगा बिहार के भागलपुर से होते हुए कटिहार ज़िले में प्रवेस करती है।भारत की सबसे बड़ी उत्तरायण गंगा का संगम त्रिमोहिनी संगम है।जो कि प्रमुख रूप से गंगा एवं कोशी का संगम है। गंगा में उत्तर की ओर से आकर मिलने वाली प्रमुख सहायक नदियाँ यमुना, घाघरा, बागमती, रामगंगा, करनाली (सरयू), ताप्ती, गंडक, कोसी और काक्षी हैं तथा दक्षिण के पठार से आकर इसमें मिलने वाली प्रमुख नदियाँ सोन, बेतवा, केन, दक्षिणी टोस आदि हैं। यमुना गंगा की सबसे प्रमुख सहायक नदी है जो हिमालय की बन्दरपूँछ चोटी के आधार पर यमुनोत्री हिमखण्ड से निकली है। हिमालय के ऊपरी भाग में इसमें टोंस[3] तथा बाद में लघु हिमालय में आने पर इसमें गिरि और आसन नदियाँ मिलती हैं। इनके अलावा चम्बल, बेतवा, शारदा और केन यमुना की अन्य सहायक नदियाँ हैं। चम्बल इटावा के पास तथा बेतवा महोबा और हमीरपुर के पास यमुना में मिलती हैं। यमुना प्रयागराज के निकट बायीँ ओर से गंगा नदी में जा मिलती है। रामगंगा मुख्य हिमालय के दक्षिणी भाग नैनीताल के निकट से निकलकर बिजनौर जिले से बहती हुई कन्नौज के पास गंगा में जा मिलती है।

करनाली मप्सातुंग नामक हिमनद से निकलकर अयोध्या होती हुई बलिया जिले के सीमा के पास गंगा में मिल जाती है। इस नदी को पर्वतीय भाग में कौरियाला तथा मैदानी भाग में सरयू कहा जाता है। गंडक हिमालय से निकलकर नेपाल में ‘शालग्रामी’ नाम से बहती हुई मैदानी भाग में ‘नारायणी’ उपनाम पाती है। यह काली गंडक और त्रिशूल नदियों का जल लेकर प्रवाहित होती हुई सोनपुर के पास गंगा में मिल जाती है। कोसी की मुख्यधारा अरुण है जो गोसाई धाम के उत्तर से निकलती है। ब्रह्मपुत्र के बेसिन के दक्षिण से सर्पाकार रूप में अरुण नदी बहती है जहाँ यारू नामक नदी इससे मिलती है। इसके बाद एवरेस्ट कंचनजंघा शिखरों के बीच से बहती हुई अरूण नदी दक्षिण की ओर ९० किलोमीटर बहती है जहाँ इसमें पश्चिम से सूनकोसी तथा पूरब से तामूर कोसी नामक नदियाँ इसमें मिलती हैं। इसके बाद कोसी नदी के नाम से यह शिवालिक को पार करके मैदान में उतरती है तथा बिहार राज्य से बहती हुई गंगा में मिल जाती है। अमरकंटक पहाड़ी से निकलकर सोन नदी पटना के पास गंगा में मिलती है।

Similar Posts

Leave a Reply