Geography | GK | GK MCQ

India is the largest producer and consumer of / भारत किसका सबसे बड़ा उत्पादक और उपभोक्ता है?

India is the largest producer and consumer of / भारत किसका सबसे बड़ा उत्पादक और उपभोक्ता है?

 

(1) Paddy / धान
(2) Tea / चाय
(3) Coffee / कॉफी
(4) Sugar / चीनी

(SSC Multi-Tasking Staff Exam. 17.03.2013)

Answer / उत्तर : –

(2) Tea / चाय

दुनिया का सबसे अच्छा चाय बनाने वाला देश कौन सा है? क्यों? - Quora

 

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

India is the largest produces and consumer of tea in the world and accounts for 28 percent of world production and 15 percent of the world trade.

For the first time in 1815, some English travelers noticed tea bushes growing in Assam from which the local tribesmen made a drink and drank it. The Governor General of India, Lord Bentinck, set up a committee in 1834 to explore the possibility of introducing and producing the tea tradition in India. After this, tea gardens were planted in Assam in 1835.

It is said that one day in a cup of hot water kept by Emperor Shan Nung of China, some dry leaves blown away by the wind came and fell in it, which added color to the water and when he sipped it, he liked its taste very much. This is where the journey of tea begins. This thing is from 2737 years before Christ. The first mention of the tradition of drinking tea dates back to 350 AD. In 1610, Dutch traders brought tea from China to Europe and gradually it became the favorite beverage of the whole world.

भारत दुनिया में चाय का सबसे बड़ा उत्पादन और उपभोक्ता है और विश्व उत्पादन का 28 प्रतिशत और विश्व व्यापार का 15 प्रतिशत हिस्सा है।

सबसे पहले सन् १८१५ में कुछ अंग्रेज़ यात्रियों का ध्यान असम में उगने वाली चाय की झाड़ियों पर गया जिससे स्थानीय क़बाइली लोग एक पेय बनाकर पीते थे। भारत के गवर्नर जनरल लॉर्ड बैंटिक ने १८३४में चाय की परंपरा भारत में शुरू करने और उसका उत्पादन करने की संभावना तलाश करने के लिए एक समिति का गठन किया। इसके बाद १८३५ में असम में चाय के बाग़ लगाए गए।

कहते हैं कि एक दिन चीन के सम्राट शैन नुंग के रखे हुए गर्म पानी के प्याले में, हवा के ज़रिये उड़कर कुछ सूखी पत्तियाँ आकर उसमे गिर गयी, जिनसे पानी में रंग आया और जब उन्होंने उसकी चुस्की ली तो उन्हें उसका स्वाद बहुत पसंद आया। बस यहीं से शुरू होता है चाय का सफ़र। ये बात ईसा से २७३७ साल पहले की है। सन् ३५० में चाय पीने की परंपरा का पहला उल्लेख मिलता है। सन् १६१० में डच व्यापारी चीन से चाय यूरोप ले गए और धीरे-धीरे ये समूची दुनिया का प्रिय पेय पदार्थ बन गया।

Similar Posts

Leave a Reply