Biology | GK | Science

The H5N1 virus which causes bird flu was first discovered in / H5N1 वायरस जो बर्ड फ्लू का कारण बनता है, पहली बार में खोजा गया था

The H5N1 virus which causes bird flu was first discovered in / H5N1 वायरस जो बर्ड फ्लू का कारण बनता है, पहली बार में खोजा गया था
(a)1991
(b)1995
(c)1997
(d)2001
Answer/ उत्तर  : – 1997

 

Explanation / व्याख्यात्मक विवरण :-

 

Influenza A virus subtype H5N1, also known as “bird flu”, A(H5N1) or simply H5N1, is a subtype of the influenza A virus which can cause illness in humans and many other animal species. H5N1 isolates found in Hong Kong in 1997 and 2001 were not consistently transmitted efficiently among birds and did not cause significant disease in these animals. In 2002, new isolates of H5N1 were appearing within the bird population of Hong Kong. These new isolates caused acute disease, including severe neurological dysfunction and death in ducks. This was the first reported case of lethal influenza virus infection in wild aquatic birds since 1961./ इन्फ्लुएंजा ए वायरस उपप्रकार H5N1, जिसे “बर्ड फ्लू”, A (H5N1) या केवल H5N1 के रूप में भी जाना जाता है, इन्फ्लूएंजा A वायरस का एक उपप्रकार है जो मनुष्यों और कई अन्य जानवरों की प्रजातियों में बीमारी का कारण बन सकता है। 1997 और 2001 में हांगकांग में पाए गए H5N1 आइसोलेट्स लगातार पक्षियों के बीच कुशलता से प्रसारित नहीं हुए और इन जानवरों में महत्वपूर्ण बीमारी का कारण नहीं बने। 2002 में, हांगकांग की पक्षी आबादी के भीतर H5N1 के नए आइसोलेट्स दिखाई दे रहे थे। इन नए आइसोलेट्स ने गंभीर बीमारी पैदा की, जिसमें गंभीर न्यूरोलॉजिकल डिसफंक्शन और बत्तखों की मौत शामिल है। 1961 के बाद से जंगली जलीय पक्षियों में घातक इन्फ्लूएंजा वायरस के संक्रमण का यह पहला मामला था।

Similar Posts

Leave a Reply